Health Tips: ये 7 फूड रख सकते हैं आपको कैंसर से कोसों दूर


Health Tips: देश में कैंसर रोगियों की संख्या बढ़ती ही जा रही है. ऐसे में लोगों के बीच एंटी कैंसर डाइट को लेकर जागरूकता होनी बहुत ज़रूरी है. एंटी कैंसर डाइट का मतलब होता है ऐसे आहार जो कैंसर के रिस्क को कम कर सकते हैं. इन एंटी कैंसर फूड्स के लिए आपको कहीं बाहर जाने की ज़रुरत नहीं क्योंकि ये आपकी रसोई में ही मौजूद हैं. यूं तो, कैंसर-रोधी आहार की जांच अभी भी शोधकर्ताओं के बीच जारी है, लेकिन आपकी रसोई में मौजूद ये एंटी कैंसर फूड्स आपको कैंसर की चपेट में आने से बचा सकते हैं. तो आइये जानते हैं उन चीज़ों के बारे में जिन्हें आप अपनी डाइट का हिस्सा बनाकर कैंसर को खुद से दूर रख सकते हैं.

1.हरी चाय का सेवन

ग्रीन टी एक शक्तिशाली एंटीऑक्सीडेंट है इसलिए इसे एंटी कैंसर डाइट के रूप में भी देखा जाता है. ग्रीन टी,  लीवर, ब्रेस्ट, अग्नाशय (Pancreatic), फेफड़े,  इसोफेजियल और त्वचा के कैंसर को रोकने में सहायक होती है. इसके अलावा ग्रीन टी की मदद से आप फिट और फैट युक्त भी रह सकते हैं.

2.टमाटर है ज़रूरी

टमाटर खाने के बहुत फायदे हैं लेकिन इसका मुख्य फायदा यह है कि ये कैंसर से लड़ने में बेहद सहायक है. बता दें कि, टमाटर में एंटीऑक्सीडेंट लाइकोपीन मौजूद होता है, जो बीटा-कैरोटीन, अल्फा-कैरोटीन और विटामिन ई से ज़्यादा प्रभावशाली है क्योंकि ये प्रोस्टेट और फेफड़ों के कैंसर को 18 फीसदी तक दूर रखने में मदद करता है.

3.फल और सब्जियों से होगा फायदा

फल और सब्जियों में भरपूर मात्रा में विटामिन और पोषक तत्व होते हैं. इससे कुछ कैंसर्स के रिस्क को काफी हद तक कम किया जा सकता है. इसलिए प्रोसेस्ड या शुगर युक्त खाद्य पदार्थों को खाने की बजाय स्नैक्स में फल और सब्जियों का सेवन करें. जो लोग मेडिटेरेनियन डाइट यानि भूमध्यसागरीय शैली का आहार लेना पसंद करते हैं वे रेड मीट की बजाय मछली पर जैतून का तेल लगाकर उसका सेवन कर सकते हैं, इससे उन्हें कैंसर से लड़ने में मदद मिलेगी.

4. फलिया और दाल हैं बहुत सहायक

दालों और फलियों  में प्रोटीन भरपूर मात्रा में पाया जाता है. इसके अलावा ये शरीर को फाइबर और फोलेट भी प्रदान करती हैं, जिससे पैंक्रियाज़ कैंसर के खतरे को कम किया जा सकता है. फलियां बड़ी आंत के लिए भी बहुत प्रभावी है. इसमें प्रतिरोधी स्टार्च पाया जाता है, जो बड़ी आंत की कोशिकाओं के लिए अच्छा साबित होता है.

5. लहसुन और प्याज हैं बेजोड़

लहसुन और प्याज में सल्फर कंपाउंड पाया जाता है. लहसुन का इस्तेमाल ब्लड प्रेशर को नियंत्रित करने में किया जाता है. लेकिन ये कैंसर को रोकने में भी मददगार है. बता दें कि यह इंसुलिन उत्पादन को कम करने के काम आता है, जिससे शरीर में ट्यूमर जैसी गंभीर बीमारी नहीं पनपती है.

6.असरदार अदरक

अदरक का उपयोग हर घर में होता है और यही वो अगली चीज़ है जो कैंसर से लड़ने में कारगर साबित होती है. बता दें कि अदरक में कैंसर की कोशिकाओं से लड़ने वाले कुछ खास गुण पाए जाते हैं. अदरक का रस न केवल कीमोथेरेपी या रेडियोथेरेपी से होने वाली परेशानी को दूर करता है बल्कि ये ट्यूमर की कोशिकाओं को रोकने में भी सहायक है.

7. अंगूर भी लाभकारी

अंगूर में एंथोसायनिन और पॉलीफेनॉल्स होते हैं जो शरीर में उत्पन्न हुए कैंसर के कणों के उत्पादन को कम करने में काफी मददगार होते हैं. इसके अलावा लाल अंगूर भी बहुत फायदेमंद होते हैं क्योंकि इनके बीजों में सुपर एंटीऑक्सीडेंट पाया जाता है जिसका इस्तेमाल रेड वाइन और रेड-ग्रेप जूस में भी होता है. कुछ प्रकार के कैंसर और हृदय रोगों को कम करने में ये बेजोड़ हैं.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *